कहीं आप भी गलतफहमी का तो नहीं हैं शिकार! ज्यादा पानी पीने से भी हो सकती हैं कई तरह की दिक्कतें


हाइलाइट्स

ज्‍यादा पानी किडनी को कर सकता है कमजोर.
जरूरत से ज्‍यादा पानी बढ़ा सकता है वजन.
ज्‍यादा पानी पीने से हो सकती है डाइजेशन की समस्‍या.

More Water Can Spoil Health-  हेल्‍दी और एनरजेटिक बने रहने के लिए अधिक पानी पीने की सलाह दी जाती है. पानी न सिर्फ शरीर को डिटॉक्‍स करने में मदद करता है बल्कि कई बीमारियों से भी बचाता है. डिहाइड्रेशन से बचने के लिए भी पानी पीना ही जरूरी होता है. हेल्‍थ एक्‍सपर्ट शरीर को स्‍वस्‍थ रखने के लिए कम से कम दो लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं. एक व्‍यक्ति को हर रोज कितना पानी पीना चाहिए ये उसकी बॉडी नीड पर डिपेंड करता है.

एक अनुमान के अनुसार महिलाओं के लिए 2.7 लीटर और पुरुषों के लिए 3.7 लीटर डेली पानी जरूरी है. कम पानी पीने के नुकसान तो सभी जानते हैं, लेकिन ये जानकार सभी को आश्‍चर्य होगा कि ज्‍यादा पानी पीने से शरीर पर नकारात्‍मक असर भी पड़ सकता है. चलिए जानते हैं अधिक पानी पीने से कैसे हेल्‍थ पर पड़ता है असर.

बिगड़ सकता है इलेक्‍ट्रोलाइट्स बैलेंस  
हेल्‍थलाइन के अनुसार आवश्‍यकता से अधिक पानी पीने से दिमाग में सूजन की समस्‍या हो सकती है. शरीर में पानी की अत्‍यधिक मात्रा होने से पोटेशियम, सोडियम और मैग्‍नीशियम जैसे इलेक्‍ट्रोलाइट्स का बैलेंस बिगड़ सकता है. ये इलेक्‍ट्रोलाइट्स बॉडी फंक्‍शन को सुचारू रूप से चलाने के लिए जरूरी होते हैं. इनका बैलेंस बिगड़ने से कई तरह की परेशानी हो सकती है. ज्‍यादा पानी ब्‍लड में सोडियम की मात्रा को भी कम कर देता है, जिससे बाद हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स हो सकती है.



किडनी पर पड़ सकता है असर
यदि कोई जरूरत से ज्‍यादा पानी पीता है तो किडनी की समस्‍या हो सकती है. ज्‍यादा पानी पीने से किडनी को क्षमता से अधिक काम करना पड़ता है. इससे किडनी कमजोर पड़ सकती हैं. ज्‍यादा पानी पीने से यूरिन भी ज्‍यादा बनती है जिससे कई बार रात में नींद डिस्‍टर्ब हो सकती है.

डाइजेशन पर भी असर
शरीर में पानी की अत्‍यधिक मात्रा से भोजन को डाइजेस्‍ट करने वाले केमिकल्‍स कमजोर पड़ जाते हैं. इससे खाना डाइजेस्‍ट होने में बहुत अधिक समय लगता है. इससे अपच की समस्‍या हो सकती है. इस वजह से पेट दर्द और उल्‍टी भी हो सकती है.

इसे भी पढ़ें : करेले के जूस को सप्‍ताह में एक दिन करें इस तरह इस्‍तेमाल, बाल बनेंगे सिल्‍की और डैंड्रफ फ्री

बढ़ सकता है मोटापा
आम धारणा है कि ज्‍यादा पानी मोटापा कम करता है. मगर ज्‍यादा पानी से मोटापा बढ़ भी सकता है. ज्‍यादा काम करने की वजह से किडनी कमजोर पड़ जाती हैं और शरीर से पानी पूरी तरह बाहर नहीं निकल पाता. शरीर में बचा ये पानी इलेक्‍ट्रोलाइट का बैलेंस बिगाड़ता है और शरीर में पानी जमा होने लगता है, जिससे वजन बढ़ता है.

इसे भी पढ़ें : कच्चा बादाम खाने से लिवर और किडनी को हो सकता है नुकसान, जरा सम्‍हल कर करें इसका सेवन

हो सकता है ओवरहाइड्रेशन
अत्‍यधिक पानी पीने से ओवरहाइड्रेशन की प्रॉब्‍लम हो सकती है, जिससे यूरिन का कलर सफेद हो सकता है. ज्‍यादा पानी से कोशिकाओं में सूजन भी आ सकती है. ज्‍यादा पानी से महिलाओं को हार्मोनल इम्‍बैलेंस का सामना करना पड़ता हैं. साथ ही ज्‍यादा पानी से हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या भी हो सकती है.

 

Tags: Health, Health problems, Lifestyle, Water

image Source

Enable Notifications    OK No thanks